Welcome To Haryana Junction Blog !
Culture of Haryana

कोथली का जायका


सावन(सामण) का महीना हो और घेवर और फिरणी की बात ना हो ये संभन नहीं है। सावन का सबसे खास व्यंजन है घेवर....

Read more


हरियाणवी संस्कृति


जहां हर सुबह सूरज हरी धान के खेतों पर अपनी किरणों का रंग बिखेरता है और शाम के रंगीन क्षितिज एक अपनी ही तरह की बोली.....

Read more


Haryanvi Language & Literature


Haryanvi language was the original language of Aryans 1500 BC. Haryanvi language provided.....

Read more


तीज - सावन का त्यौहार


सामण का महीना लगते ही गांव में जिस तरह के रुनक-झुनक देखने को मिलती थी आज वह फिर से ताजा हो उठी। छोटे-छोटें ....

Read more